ITI Stenographer

स्टेनो (आशुलिपि) क्या होता है ?

यह एक संकेत लिपि होती है जिसके आधार हिंदी के कथनों , वाक्यांशों ,संक्षिप्त हिंदी लेख को एक नयी लिपि के तोर में लिखा जाता है , जिसे हिंदी की शीघ्र लिपि या आशुलिपि कहते हैं।

        इसे लिपि को सीखने वाले छात्र/ छात्राओ को आशुलिपिक या स्टेनोग्राफर कहते हैं।  

शैक्षणिक योग्यता

         स्टेनोग्राफर की योग्यता प्राप्त करने  की लिए 10 वी पास होना अनिवार्य होता है और इसे सरकारी औद्योगिक शैक्षणिक संस्थानों या निजी औद्योगिक शैक्षणिक संस्थानों से इस डिप्लोमा कोर्स को किया जा सकता हैं।  

कोर्स की अवधि = 1 वर्ष

कोर्स का प्रकार = आई टी आई गैर व्यवसायिक प्रशिक्षण

संबंधित विषय

                  1.ट्रेड थ्योरी

  1. एम्प्लोयाबिलिटी स्किल्स
  2. ट्रेड प्रैक्टिकल

परीक्षा प्रकिया (Exam Process )

स्टेनो की परीक्षा 80 शब्द प्रति मिनट और 100 शब्द प्रति मिनट में होती है

आशुलिपि की हिंदी को ,,टाइपिंग के माध्यम से लिखा जाता है (जिसके लिए ३० मिनट का समय मिलता)

इसके लिए आपकी टाइपिंग स्किल अच्छी होना अनिवार्य है

स्टेनोग्राफर परीक्षा

S.No

paper

Paper Max.

Marks

Paper Min.

Marks

Total Marks Secured

Subject

Subject Max. Marks

Subject Min.Marks

1

Paper-1

80

32(40%)

64

Part-A Trade Theory

 

Part-B Employability skills

30

 

50

7.5 (25%)

 

12.5 (25%)

2

Practical

120

72(60%)

103

Trade Practical

 

Sessional

100

 

20

 
 

Total

200

 

167

Total

200